Ishwar bhakti shayari, in hindi, in Punjabi, Images, God Bhakti shayari

 Ishwar bhakti Shayari, in Hindi, in Punjabi, Images, God Bhakti Shayari



मन तुलसी का दास हैं, वृन्दावन हो धाम,
साँस-साँस में राधा बसे, रोम-रोम में श्याम.


देवो के देव, महादेव आपसे हैं विनती,
मेरी भी हो, आपके ख़ास भगतो में गिनती.


बैरागी बने तो जग छूटे,
सन्यासी बने तो छूटे तन,
कान्हा (कृष्ण) से प्रेम हो जाये
तो छूटे आत्मा के सब बन्धन.

God Shayari in Hindi

पांच पहर काम (कर्म) किया, तीन पहर सोए,
एको घड़ी न हरी भजे तो मुक्ति कहाँ से होए


इतना सच्चा हो हमारा विश्वास,
हमारे हृदय में ” श्री राम” सदा करे वास.


नियत अच्छी हो तो, भक्ति भी सच्ची होती हैं,
भगवान हर हृदय में हैं, घरो में रखने की जरूरत नही होती हैं.


शिव भक्ति शायरी (Shiv Bhakti Shayari)
महाकाल शायरी (Mahakal Shayari), भोलेनाथ शायरी (Bhole Nath Shayari), महादेव शायरी (Mahadev Shayari), शिव शंकर शायरी (Shiv Shankar Shayari), महाकाल फेसबुक स्टेटस (Mahakal Facebook Status), शिव व्हाट्सऐप स्टेटस (Shiv WhatsApp Status).

हर ओर सत्यम-शिवम-सुन्दरम,
हर हृदय में हर-हर हैं,
जड़ चेतन में अभिव्यक्त सतत
कंकर-कंकर में शंकर हैं.

Shiv Bhakti Shayri

शिव से ही श्रृष्टि हैं, शिव से ही शक्ति हैं,
अति आनन्द सिर्फ़ शिव भक्ति हैं.


कहने की जरूरत नही, आना ही बहुत हैं,
शिव भक्ति में तेरा शीश झुकाना ही बहुत हैं.


जो कुछ हैं तेरे दिल में, सब उसको ख़बर हैं,
बन्दे तेरे हर हाल पर भगवान् शिव की नज़र हैं.


सागर मथ के सभी देवता अमृत पर ललचाए
तुम अभ्यंकर विष को पीकर नीलकंठ कहलाए

अकेले ही पूरी दुनिया में चिता की भस्म से नहाते हैं,
ऐसे ही नही वो कालों के काल महाकाल कहलाते हैं.


शिव उठत, शिव चलत, शिव शाम-भोर है !
शिव बुध्दि, शिव चित, शिव मन विभोर है !!


दिखावे की दुनिया से थोड़ा दूर रहता हूँ मैं,
इसलिए शिव भक्ति में चूर रहता हूँ मैं.


भक्तो को चिंता नही होती हैं काल की,
क्योकि उन पर कृपा होती हैं महाकाल की.


शिव शंकर को जिसने पूजा उसका ही उद्धार हुआ,
अंत काल को भवसागर में उसका बेड़ा पार हुआ.


“भगवान् शिव”
चिंतन हो सदा इस मन में तेरा,
चरणों में सदा मेरा ध्यान रहे
चाहे दुख में रहूँ चाहे सुख में रहूँ,
होंठों पे सदा तेरा नाम रहे…!


मन में करो सब शिव जी का ध्यान,
सबसे सुंदर हैं शिव का स्थान,
मिल सभी गुण शिव जी के गाते,
सारी खुशियाँ जीवन में पाते.


जंगल में रहो या बस्ती में,
लहरों में रहो या कश्ती में,
महँगी में रहो या सस्ती में,
पर रहो भगवान् शिव की भक्ति में.


जो डूबते हैं महाकाल की मस्ती में,
चार चाँद लग जाती हैं उनकी हस्ती में..
ॐ नमः शिवाय


ना पैसा लगता हैं ना ख़र्चा लगता हैं,
राम-राम बोलिए बड़ा अच्छा लगता हैं.


शब्द-शब्द में ब्रम्हा हैं, शब्द-शब्द में सार,
शब्द सदा ऐसे कहो जिनसे उपजे प्यार.

प्यार में ताकत हैं दुनिया को झुकाने की,
वरना क्या जरूरत थी राम को झूठे बैर खाने की.


राम नाम की लूट हैं, लुटे जा सो लूट
फिर पाछे पछतायेगा, जब प्राण जाएँगे छूट.


एक ही नारा एक ही नाम
जय श्री राम जय श्री राम


हे मेरे प्रभु, सुना है आपने लाखों की किस्मत बनाई हैं,
देखिये तो सही प्रभु मेरी अर्जी खा छिपाई हैं.


ॐ में ही आस्था हैं, ॐ में ही विश्वास हैं,
ॐ में ही शक्ति हैं, ॐ में ही संसार,
ॐ से होती हैं अच्छे दिन की शुरूआत.


सारे जगत को देने वाले, मैं क्या तुझको भेंट चढाऊं,
जिसके नाम से आए ख़ुशबू, मैं क्या उसको फूल चढाऊं.


प्रार्थना (पूजा) शब्दों से नही, ह्रदय से होनी चाहिए,
क्योकि ईश्वर उनकी भी सुनता हैं, जो बोल नही सकते.


वो तैरते-तैरते डूब गये, जिन्हें खुद पर गुमान था,
और वो डूबते-डूबते भी तर गये जिन पर तू मेहरबान था.


जय हो हृदय में बसे नन्द लाल की,
जय हो हृदय में बसे बाल गोपाल की.


हृदय में “शिव” करे सदा वास,
मंगलमय हो सबके काज.


जो लोग ईश्वर को पाना चाहते हैं,
उन्हें वाणी, मन, इंद्रियों की पवित्रता और
 एक दयालु हृदय की जरूरत होती हैं.

“महादेव”आप पर क्या लिखूं ! कितना लिखूं !
रहोगे आप फिर भी अपरिभाषित चाहे जितना लिखूं !


मोहिनी मूरत, हृदय में छिपाए बैठे हैं, सुंदर-सी छवि आँखों में बसाए बैठे हैं,
बाँसुरी की मधुर तान सुना दे कान्हा, छोटी-सी आस लगाये बैसे हैं.


कर्म अच्छे हो तो वही धर्म बन जाता है,
ऐसा इंसान, ईश्वर का भक्त बन जाता है.



जब गमों ने तुमको घेरा हो,

तुम हाल श्याम को सुना देना|

जब दुनिया तुमसे मुँह मोड़े,

तुम अपने श्याम को मना लेना|

मेरे श्याम तो करूणा के सागर हैं,

तुम डुबकी उसमें लगा लेना|


Bhakti Shayari Hindi


हे कान्हा जिंदगी लहर थी आप साहिल हुए,

न जाने कैसे, हम आपके काबिल हुए|

न भूलेंगे हम उस हसीन पल को,

जब आप हमारी छोटी सी जिंदगी में शामिल हुए|


Bhakti Shayari

इंसान प्राथना करते समय समझता है,

कि भगवान बहुत नजदीक है|

और गुनाह करते समय समझता है,

कि भगवान बहुत दूर है|


God Shayari in Hindi Images


शंकर की ज्योति से नूर मिलता है,

भक्तो के दिलों को सुकून मिलता है|

शिव के द्वार आता है जो भी,

उन सबको फल जरूर मिलता है||



भगवान का दिया कभी अल्प नहीं होता

टूट जाये जो आसानी से वो संकल्प नहीं होता|

हर को जीत से दूर ही रखना

क्योंकि जीत का कोई विकल्प नहीं होता



भगवान शायरी


मैं कैसे कह दूँ कि मेरी, हर दुआ बेअसर हो गई,

मैं जब जब रोया, मेरे भोलेनाथ को इसकी खबर हो गई|


भक्ति शायरी


संस्कार और संस्कृति की शान मिले ऐसे..

हिन्दू मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले ऐसे..

हम मिलाजुला के ऐसे कि

मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में राम मिले जैसे..


Shayari Bhakti Ki


कान्हा जी लो आज हम आपसे निकाह-ए-इश्क करते हैं …..

हाँ हमें आपसे मोहब्बत है मोहब्बत है , मोहब्बत है


भक्ति शायरी इन हिंदी



मंदिर में जाप करता हूँ,

मस्जिद में नवाज पढता हूँ|

इंसान से कही भगवान ना बन जाऊ,

इसलिए रोज़ थोड़े बहुत पाप करता हूँ|


ईश्वर पर शायरी


संगीत सुनकर ज्ञान नहीं मिलता!

मंदिर जाकर भगवान नहीं मिलता!!

पत्थर तो इसलिए पूजते हैं लोग!

क्योंकि विश्वास के लायक इंसान नहीं मिलता!!



गॉड शायरी


भगवान नहीं है, तो फिर ज़िक्र क्यों है ?

और अगर है, तो किसी भी बात की फ़िक्र क्यों है ?


Hindi Shayari on God


कुछ मन्त्र पढ़ लेने से भक्त भगवान नहीं होता,

दो सिक्के डाल कटोरे में कोई महान नहीं होता|

खोई मनावता देख इंसानो की कहता है, ये उदास मन,

ये बस्ती है शैतानो की यहाँ कोई इंसान नहीं रहता|


ईश्वर भक्ति शायरी


अभी तो बस इश्क़ हुआ है कान्हा से,

मंजिल तो वृंदावन में ही मिलेगी|


धार्मिक शायरी – भक्ति शायरी


रंग बदलती दूनियाँ देखी देखा जग व्यवहार,

दिल टूटा तब मन को भाया ठाकुर तेरा दरबार|




प्रभु भक्ति शायरी


जब तक आप खुद पे विश्वास नहीं करते

तब तक आप भगवान पे विश्वास नहीं कर सकते|

ऐसा इसीलिए क्योंकि दोनों एक ही है|


कृष्ण भक्ति शायरी



जीवनरूपी नाव के हम है खिवैया,

अगर मझधार में डूबने लगे आपकी नैया|

तो डरना नहीं होसला रखना

डूबती नैया से पार लगायेगे किशन कन्हैया|


शायरी भगवान पर



ऐसा प्यारा रूप साईं का,

जैसे आँचल हो हमारी माई का|

साईं ही सहारा हम सब बहन भाई का,

दूर कर देता ये हर अँधेरा तन्हाई का|


प्रभु भक्ति शायरी



मस्जिद तो हुई हासिल हमको,

खाली ईमान गंवा बैठे|

मंदिर को बचाया लड़ भिड़कर,

खाली भगवान गवां बैठे|

धरती को हमने नाप लिया,

हम चांद सितारों तक पहुंचे.

पूरी कायनात को जीत लिया,



खाली इन्सान गंवा बैठे.

मज़हबो के ठेकेदारों ने,

आज फिर हमें कुछ यूँ भड़काया|

कि काजी और पंडित जिन्दा रहे,

और हम अपनी जान गंवा बैठे|

धार्मिक शेर शायरी

आँखें खोलो भगवान का नाम लो,

साँस लो ठंडी हवा का जाम लो|

ब्रह्मा, विष्णु और महेश का,

वारी वारी तुम नाम लो|


Bhagwaan Ki Shayari Hindi Me

बाजार के रंगो में रंगने की मुझे जरुरत नही,

मेरे कान्हा की याद आते ही ये चेहरा गुलाबी हो जाता है|


Hindi Shayari on God


किसी की सूरत बदल गई किसी की नियत बदल गई,

जब से तूने पकड़ा मेरा हाथ, “राधे” मेरी तो किस्मत ही बदल गई|

भगवान शायरी

एक पत्थर सिर्फ एक बार मंदिर जाता है,

और भगवान बन जाता है| .

हम इंसान हर रोज़ मंदिर जाते है,

लेकिन फिर भी पत्थर ही रह जाते है|


God Shayari in Hindi


खुदा की मोहब्बत को फना कोन करेंगा?

सभी बंदे नेक हो, तो गुनाह कोन करेंगा?

प्रभु शायरी

हे प्रभु,,

तुझसे हाथ जोड़ के विनती है कि

उन्हें जरुर खुश रखना जो मुझे याद करते हैं 

Comments

please read
please read
hi thanks for visiting our blog if you want to add link we accept but rule is add minimum 2 comment
ist = your real word which you to say about our post
2nd = your another comment with your weblink thanks

Archive

Contact Form

Send